Ad

इसप्रिंट और मैराथन रनिंग

अगर आप वेट कम करने के लिए या मसल बिल्डिंग के लिए रनिंग करना चाहते हैं तो इसके लिए सही
तरीका क्या है यह हम आज आपको इस ब्लॉग में बताने जा रहे है अक्सर बहुत से युवाओ में यह गलत अवधारणा बनी हुई है कि रनिंग करने से मसल लॉस होता है. तो क्या हमें वेट लॉस करने केे लिए रनिंग  करनी चाहिए या नहीं. तो आज इस ब्लॉग में बताते हैं रनिंग या का कार्डिओ करने का सही तरीका. सबसे पहले हमें अपने डाइट में न्यूट्रिशंस पर ध्यान देना है कि हमारी डाइट में हम सही न्यूट्रिशंस ले रहे हैं या नहीं यह सबसे जरूरी है कि हम अपनी डाइट में सही मात्रा में प्रोटीन कार्बोहाइड्रेट वसा और फाइबर का इस्तेमाल करे. तो बात करते हैं सबसे पहले मैराथन रनिंग कि जब भी हम अक्सर मैराथन एथलीट्स को देखते हैं तो हम नोटिस करते हैं कि उनकी बॉडी पर मसल्स बहुत कम मात्रा में होती है. इसका कारण है उनका अत्याधिक देर तक दौड़ना जिसके कारण उनका शरीर ऊर्जा के लिए मसल्स ब्रेक डाउन कर कर उस से ऊर्जा प्राप्त करता है जिसके कारण मसल्स लॉस होता है. अगर हम 20 या 25 मिनट से अधिक रनिंग करते हैं तो हमारी बॉडी हमारी मसल्स को ब्रेक डाउन करती है. शरीर को ऊर्जा देने के लिए. इसका उल्टा जब भी हम फास्ट रनिंग जिसे कि इसप्रिंट रनिंग भी बोलते हैं. करते हैं तो इसका उल्टा प्रभाव हमारी बॉडी पर पड़ता है तब यह सीधा हमारे जमा फेट को टारगेट कर कर उसे एनर्जी के लिए इस्तेमाल करता है. जिससे कि हमारा मेटाबॉलिज़्म भी बूस्ट होता है. तो आपका टारगेट फैट बर्न करके मसल्स बिल्डिंग करना है. तो कभी भी 20 से 25 मिनट से ज्यादा रनिंग ना करें और तब भी रनिंग करें तो फास्ट रनिंग करें ताकि वह डायरेक्ट बॉडी फैट को टारगेट करें. इस तरह आप सही  डाइट को फॉलो करके आसानी से एक सॉलिड फिजिक्स बना सकते हैं।

No comments

Note: only a member of this blog may post a comment.